Header Ads Widget

Responsive Advertisement

2 LINE SAD SHAYARI IN HINDI

हमने इस कैटेगरी में 2 LINE 😞SAD SHAYARI IN HINDI पोस्ट की हैं। आप यहां 2 लाइन में गहरे अर्थ वाली छोटी शायरी का सबसे बड़ा संग्रह पढ़ सकते हैं। इन छोटी शायरियों को व्हाट्सएप और फेसबुक पर 2  लाइन स्टेटस के तौर पर तैयार किया जा सकता है।

All these Heart Touching Two Line Shayari boasts many emotions in the heart with very few words. So read and feel the deep feelings of this poetry.

👉हर वक़्त नया चेहरा... हर वक़्त नया वजूद,
आदमी ने आईने को, हैरत में डाल दिया है।

👉तबाह होकर भी तबाही दिखती नही,
ये इश्क़ है इसकी दवा कहीं बिकती नहीं।

👉जिसके लफ़्ज़ों में हमे अपना अक्स मिलता है,
बड़े नसीबों से ऐसा कोई शख़्स मिलता है।

👉कौन हूँ मैं.... ऐ जिंदगी तू ही बता,
थक गया हूँ मैं खुद का पता ढूँढते ढूंढ़ते।

👉वही वहशत, वही हैरत, वही तन्हाई है मोहसिन,
तेरी आँखें मेरे ख़्वाबों से कितनी मिलती-जुलती हैं।

👉वो साथ थे तो एक लफ़्ज़ ना निकला लबों से,
दूर क्या हुए... कलम ने क़हर मचा दिया।

👉निगाहें नाज करती है फलक के आशियाने से,
रूठ जाता है खुदा भी किसी का दिल दुखाने से।

👉Zakhm Khareed Laya Hoon Bazaar-E-Ishq Se,
Dil Zid Kar Raha Tha Mujhe Ishq Chaahiye.

👉मोम के पास कभी आग को लाकर देखूँ,
सोचता हूँ कि तुझे हाथ लगा कर देखूँ।

👉शायर कह कर मुझे बदनाम ना करना दोस्तो,
में तो रोज़ शाम को दिन भर का हिसाब लिखता हूँ।

👉आज बड़ी देर तक वो मोहब्बत दिखाता रहा मोहसिन,
न जाने क्यों लगा कि वो मोहब्बत छोड़ जाएगा।

👉जिसको आज मुझमें हज़ारों गलतियां नज़र आती हैं,
कभी उसी ने कहा था तुम जैसे भी हो... मेरे हो।

👉हर नजर में मुमकिन नहीं है बे-गुनाह रहना,
वादा ये करें कि खुद की नजर में बेदाग रहें।

👉उलझे हुए हैं अपनी उलझनों मे आज कल,
आप ये न समझना के अब वो लगाव नहीं रहा।

👉सीख जाओ वक्त पर किसी की चाहत की कदर करना,
कहीं कोई थक ना जाए तुम्हें एहसास दिलाते-दिलाते।

👉क्यों शर्मिंदा करते हो रोज़ हाल पूछकर,
हाल हमारा वही है जो तुमने बना रखा है।

👉मिलावट है तेरे इश्क में इत्र और शराब की,
वरना हम कभी महक तो कभी बहक क्यों जाते।

👉भूल जाऊंगा उसी वक़्त उसी पल,
बस तू उससे मिला दे जो मुझसे ज़्यादा चाहता है तुझे।

👉इन्ही पत्थरों पे चल कर अगर आ सको तो आओ,
मेरे घर के रास्ते में कोई कहकशाँ नहीं है।

👉आदत मेरी अंधेरों से डरने की डाल कर,
एक शख्स मेरी ज़िन्दगी को रात कर गया।

👉जिससे लड़ता हूँ मै अब उस को मना लेता हूँ,
खूब बदली है तेरे बाद अपनी आदत मैंने।

👉मुद्दत हुई है बिछड़े हुए अपने-आप से,
देखा जो आज तुमको तो हम याद आ गए।

👉यह कह कर मेरा दुश्मन मुझे हँसता छोड़ गया,
कि तेरे अपने ही बहुत हैं तुझे रुलाने के लिए।

👉उसकी आँखों से भी बरसता है सावन अब,
मेरे भी चेहरे पर भी उदासियों के जंगल है।



👉ज़िन्दगी मिली तो मिली बनकर फ़िज़ा मिली,
इतने बड़े गुनाह न किये जितनी बड़ी सज़ा मिली।

👉लड़ के जाता तो हम मना लेते,
उसने तो मुस्कुरा के छोड़ा है।

👉सिखा दी बेरुखी भी तुम्हें ज़ालिम ज़माने ने,
कि तुम जो सीख लेते हो हम पर आजमाते हो।

👉तरस आता है मुझे अपनी मासूम सी पलकों पर,
जब भीग कर कहती हैं कि अब रोया नहीं जाता।

👉अगले जिंदगी में मेरी जिंदगी बनकर आना,
इस जिंदगी में तो जिंदगी को छुकर गये थे।

👉थोड़ी-सी तो जिंदगी है,
क्या तेरा रूठ जाना जरूरी था।

👉सिर्फ दो ही सब तेरा साथ चाहिए,
एक तो भी और एक आने वाले कल मे।

👉सारी दुनिया को छोड़ कर मिलने तुझको बनाया था,
करोगे याद सदियों तक किसी ने दिल लगाया था।

👉तुम्हारा दो दिन तक मुझसे बात ना करना जायज़ है वो
मगर अब तो साल हो गया क्या अब तक रूठी हो…?

👉दिल से दिल मिले या न मिले हाथ मिलाओ,
हमको ये सलीका भी बड़ी देर से आया।





















एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ